आखो का ख्याल रखे घरेलु नुस्खों के साथ

आखो का ख्याल रखे घरेलु नुस्खों के साथ

दुनिया का कोई भी कैमरा आँखों का मुकाबला नहीं कर सकता । जो प्रकृति का हर सुन्दर रंग , आकार , बनावट , दूरियां , नजदीकियाँ , गहराइयाँ , भावनाएं आदि हर चीज़ को हर कोण से हमें दिखाने में सक्षम हैं।आँखों के लिए घरेलु नुस्खे और उपाय अपनाकर आँखों को स्वस्थ और सुन्दर रखा जा सकता है। आँखों का ध्यान रखने पर आँखें जीवन भर आपका साथ दे सकती हैं। आँख दिमाग के बाद शरीर की सबसे जटिल संरचना है। आँखों से देखने समझने की प्रक्रिया इतनी जटिल है की दिमाग का लगभग आधा हिस्सा इसमें जुटा रहता है। आँख का लगभग सिर्फ 15 % हिस्सा हमें दिखाई देता है बाकि हिस्सा अंदर की तरफ होता है। प्रकृति ने आँखों की सुरक्षा के लिए पूरी व्यवस्था की है। पलकें आँख की सुरक्षा का महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। पलक झपकने में एक सेकंड का भी दसवाँ हिस्सा लगता है। ये शरीर की सबसे फुर्तीली मांसपेशी है।
आँखों के लिए घरेलु नुस्खे
  • सुबह मुँह में पानी भरकर आँखों पर (आँखें बंद करके ) ठण्डा पानी छिड़कें। इसे दिन में या शाम को जब भी आँखें थकी हुई महसूस हो तब कर सकते है। इससे आँखों में ताजगी आ जाती है।
  • 100 ग्राम बादाम भिगोकर छिलका निकाल दें और क़तर लें , 50 ग्राम कतरी हुई अखरोट गिरी , 50 ग्राम किसा हुआ नारियल , 250 ग्राम मिश्री , 250 ग्राम सौंफ इन सबको मिलाकर रख लें। रोजाना खाना खाने के बाद चार चम्मच इसमें से लेकर अच्छे से चबा चबा कर खा लें। दो महीने लगातार खाने से आँखें तेज , निरोग , सुन्दर हो जाती है। शानदार प्रयोग है।
  • धूल , धुआँ और तेज रौशनी से आँखों को बचाएँ।
डार्क सर्कल्स कम करने के प्राकृतिक उपाय
  • सिर धोने के लिए या चेहरा धोने के लिए अधिक गर्म पानी का उपयोग ना करें।
  • गाजर , लाल टमाटर , आम , पपीता , केला , संतरा , दूध , खजूर , पत्ता गोभी , हरी पत्तेदार सब्जियाँ आदि विटामिन ” A ” वाली चीजें भोजन में शामिल करनी चाहिए। विटामिन ” A ” आँखों के लिए बहुत जरुरी होता है।
  • सुबह खाली पेट आधा चम्मच ताजा मक्खन , आधा चम्मच पिसी हुई मिश्री और चौथाई चम्मच पिसी हुई काली मिर्च मिलाकर खा लें। इसके बाद कच्चे नारियल का एक टुकड़ा खा लें। फिर बारीक सौंफ आधा चम्मच खा लें। ये प्रयोग दो महीने लगातार करने से ऑंखें सुन्दर, स्वस्थ और तेज हो जाती है।
  • सुबह देर तक सोना और रात को देर तक जागना दोनों ही आँखों पर तनाव पैदा करते है। इससे आँखों का नूर चला जाता है और आँखें रूखी और बेजान नजर आने लगती है।
  • आँख में फुंसी या गुहेरी है तो इसका उपचार जल्द करना चाहिए। आँख की फुंसी ठीक करने के लिए पढ़ें — आँख की फुंसी का घरेलु उपचार
  • तेज मिर्च मसाले वाले , तले हुए , खट्टे , बासी भोजन से आँखें कमजोर होती है। इन्हे कम ही लेना चाहिए।
  • सुबह सूर्योदय से पहले नंगे पैर घास पर कुछ देर चलने से आँखों को ताजगी मिलती है। क्योंकि सुबह घास पर रात भर गिरी ओस की नमी होती है जो शरीर की गर्मी शांत करती है और नेत्र ज्योति बढाती है।
वक्षस्थल की सुन्दरता निखारें
  • स्कूटर , बाइक या दूसरे वाहन के उपयोग के समय जिन पर तेज हवा लगती है आँखों के बचाव का विशेष ध्यान रखना चाहिए। तेज हवा आँखों के लिए नुकसान देह होती है।
  • ऋतुचर्या यानि मौसम के हिसाब से खान पान व दिनचर्या में बदलाव का ध्यान रखें। अन्यथा आँखों पर असर पड़ता है।
  • लेटकर बुक्स पढ़ने से या मोबाइल लैपटॉप आदि पर काम करने से आँखों पर दबाव बढ़ जाता है। अतः ऐसा ना करें।
  • आँखों से कम दिखाई दे या लगातार सिरदर्द हो तो और चश्मे की जरुरत हो तो जरूर लगाएं।
जोड़ों के दर्द, आर्थराइटिस का असरकारक उपचार
शीघ्रपतन (प्रीमैच्योर एजैक्युलेशन) रोकने के घरेलू उपाय

disclamer of kdl
Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *