वक्षस्थल की सुन्दरता निखारें

वक्षस्थल की सुन्दरता निखारें

वक्षस्थल की सुन्दरता निखारें वक्षस्थल को स्त्री के शरीर का सबसे खूबसूरत और आकर्षक अंग कहा जाता है। ये स्त्री की सुंदरता में न सिर्फ चार चांद लगाते हैं बल्कि उसे मनमोहक लुक भी देते हैं। कई लड़कियों और स्त्रियों को अपने स्तन के आकार को लेकर शिकायत रहती है। जैसे स्तन का आकार छोटा होना, ढंग से स्तन का विकसित नहीं होना आदि। लेकिन घबराने की कोइ आवष्यकता नही क्योकि महिलाएं ओर लडकिया चाहें तो घर पर रहकर ही स्तन के आकार को ठीक कर सकती हैं।
तो आइए जानते हैं स्तन के आकार को बढ़ाने के कुछ आसान और बेहतरीन उपायो का प्रयोग कर आसानी से आप अपने वक्षस्थल की सुन्दरता को बढा सकती हैं।
मालिश – अगर आप रोजाना स्तनों की मालिश श्रीपर्णी तेल से करेंगी तो आपके स्तनों का आकर निश्चित रुप से बढेगा। श्रीपर्णी तेल एक आयुर्वेदिक तेल हे, जो आयुर्वेद के महान ग्रन्थ भेषज्यरत्नावली की देन हैं। इस तेल की मालिश से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है और इससे स्तनों के अंदर ऊतक फैलने लगते हैं, जिससे स्तन बड़ा और मजबूत बनता हैै। यह महिलाओ के हार्मोन को संतुलित करने का काम करता है। आप इस तेल की मालिष रात में सोने से पहले और दिन में स्नान करने से 1 घंटा पहले कम से कम 5 मिनिट तक इसकी नियमित रुप से मालिष करे।, ध्यान रखे श्रीपर्णी तेल एक आयुर्वेदिक तेल हे, जिसका कोइ साइड ईफेक्ट नही है, आप इसका प्रयोग निंसकोच कर सकती हैं। बाजार में यह तेल, आसानी से मिलता नही हैं। लेकिन अगर आप इस तेल की जरुरत महसुस करती है, तो आप निचे दिए गए श्रीपर्णी तेल के चित्र पर क्लिक करके इसे घर बेठे मंगवा सकती हैं।
Shriparni Taila (Oil) 30ML
इसके अलावा आप स्वस्थ आहार ग्रहण करें। क्योकि एस्ट्रोजन हार्मोन की कमी से स्तन विकसित नहीं होते और स्तन का साइज छोटा होता है। इन हार्मोंस पर काबू पाने के लिए सबसे अच्छा तरीका खाद्य पदार्थ ही हो सकता है। आप अपने संतुलित भोजन में चिकन सूप, मछली, सौंफ बीज, सोयाबीन और सोया से बने अन्य खाद्य पदार्थ सब्जियां, फल, अंडे, नट्स आदि का प्रयोग कर सकती हैं। स्तन के ऊतकों को स्वस्थ बनाए रखने के लिए रोजाना काफी मात्रा में पानी पीएं।
 
 
व्यायामः कुछ ऐसे व्यायाम हैं जिससे आपकी मांसपेशियों में खिचाव आता है और मांसपेशी का आकार बढ़ता है। स्तन के आकार को बढ़ाने के लिए स्तन की मांसपेशियों में खिंचाव जरुरी है और यह एक्सरसाइज से ही हो सकता है। पुश-अप और चेस्ट की एक्सरसाइज करने से भी वक्षस्थल का साइज बढ़ता है।
B-Akar-Care Oil 50ML
 
योग : हमेशा ही उपयोगी साबित होता है। स्तन मांसपेशियों को बढ़ाने के लिए पुश-अप, डम्बल से वक्षस्थल प्रेस, वाल प्रेस, स्विंगिंग आर्म्स के साथ-साथ घर पर गोमुखासन, उष्ट्रासन, वृक्षासन, द्विकोणासन आदि योग का अभ्यास कर वक्षस्थल को सुडौल रख सकती हैं। कपड़ों का सही चुनाव करें। छोटे स्तनों को उजागर करने के लिए हमेशा छोटे या गलत फिटिंग वाले ब्रा पहनना आपकी वक्षस्थल के लिए हानिकारक हो सकता है
 
disclamer of kdl
Share this

5 thoughts on “वक्षस्थल की सुन्दरता निखारें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *