डायबिटीज रोकने के लिए अपनाएं ये असरदार टिप्स

डायबिटीज रोकने के लिए अपनाएं ये असरदार टिप्स

मधुमेह खतरनाक रोग है, जो शरीर को धीरे-धीरे खोखला कर देता है। एक बार यह बीमारी होने पर जीवनभर इसका साथ रहता है। ब्‍लड शुगर बढ़ने से यह बीमारी होती है और इंसुलिन सही तरीके से काम नहीं करता है। यानी इसमें कई तरह की समस्‍याओं से सामना भी होता है। अगर इसको नजरअंदाज किया जाये तो शरीर के दूसरे अंग निष्क्रिय हो सकते हैं। इसलिए मधुमेह में जटिलताओं को रोकने के लिए कुछ बातों का ध्‍यान रखना बहुत जरूरी है।

☆ ☆ ☆

ग्लूकोज के स्तर की नियमित जांच : मधुमेह के मरीजों को अपने रक्‍त में ग्‍लूकोज की जांच नियमित रूप से करनी चाहिए। ब्‍लड शुगर जांच किट से आप आसानी से अपने ग्‍लूकोज के स्‍तर का पता लगा सकते हैं। इसके लिए चिकित्‍सक द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन करना जरूरी है।

स्वस्थ खाएं : कम कैलोरी, विशेष रूप से कम संतृप्त वसा वाला आहार खाएं। कई जांच से पता चला है कि, वसा (फैट) का सेवन कुल कैलोरी की मात्रा के 30 प्रतिशत से अधिक नहीं होना चाहिए जबकि संतृप्त वसा (सैचुरेटेड फैट) सिर्फ 10 प्रतिशत तक ही लेना चाहिए। सब्जियां, ताज़े फल, साबुत अनाज, डेयरी उत्पादों और ओमेगा -3 वसा के स्रोतों को अपने आहार में शामिल कीजिये। इसके अलावा फाइबर का भी अधिक मात्रा में सेवन कीजिए।


sugar control tea

SUGAR CONTROL TEA

 

मोटापा कम करें : स्वस्थ रहने के लिए सबसे अच्छा तरीका व्यायाम है। यह मधुमेह के दौरान होने वाली समस्‍याओं को रोकने के साथ पूरे शरीर को स्‍वस्‍थ बनाये रखता है। इससे हर रोज आप ताज़ा और ऊर्जावान महसूस करेंगे। अधिक वज़न और मोटापे से ग्रस्त लोगों को अपने दैनिक कार्यों में व्यायाम शामिल करना चाहिए। यह आपके रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित रखने में मदद करेगा।

धूम्रपान और शराब का सेवन न करें : जो लोग धूम्रपान करते हैं, उनमें मधुमेह होने का खतरा दोगुना होता है। आपको इस आदत को छोड़ना पड़ेगा तभी ही अन्य परिवर्तन आपके स्वास्थ्य पर पूर्ण रूप से प्रभाव कर सकेंगे। ज़्यादा शराब पीने वाले लोगों का वजन तेजी से बढ़ता है। मोटापा बढ़ने से मधुमेह की जटिलतायें भी बढ़ती हैं। अगर आपको प्रीडायबिटीज है, तो शराब का अधिक सेवन करने से मधुमेह हो सकता है।

तनाव से बचें : जितना अधिक आप तनाव लेंगे उतना अधिक आप अस्वास्थ्यकर आदतों का पालन करेंगे। कई शोधों से यह पता चला है कि तनाव के कारण हॉर्मोन्स का स्राव बाधिक होता है और इससे रक्त ब्‍लड ग्‍लूकोज का स्‍तर बढ़ता है। इसलिए तनाव से बचने के तरीके आजमायें।

☆  ☆  ☆


disclamer of kdl
Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *